• Follow NativePlanet
Share
» »भारत के ये ऐतिहासिक स्‍थल देखना ना भूलें

भारत के ये ऐतिहासिक स्‍थल देखना ना भूलें

Posted By: Namrata Shatsri

भारत की धरती पर कई पंरपराओं और संस्‍कृतियों का मिलन देख जा सकता है। इस देश के हर क्षेत्र में अपनी अनोखी संस्‍कृति समाई है। भारत के हर राज्‍य पर प्राचीन समय में किसी ना किसी राजा या बादशाह की हुकूमत रही है।

इन शक्‍तिशाली राजाओं ने कई इमारतें और संरचनाओं का निर्माण भी करवाया था जिनका अस्तित्‍व आज भी बरकरार है। भारत पर कई साम्राज्‍यों का राज रहा है और इस वजह से यहां पर विभिन्‍न राजवंशों द्वारा बनवाए गए अनेक ऐतिहासिक स्‍थल हैं।

आज हम आपको भारत की ऐसी 10 जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं जो भारतीय इतिहास में महत्‍वपूर्ण हैं।

आगरा

आगरा

दुनियाभर में आगरा शहर अपनी खूबसूरत इमारत ताज महल के लिए प्रसिद्ध है। ये दुनिया के सात अजूबों में भी शामिल है। लंबे समय तक आगरा पर मुगल राजवंशों का शासन रहा है और इस दौरान मुगल बादशाहों जैसे अकबर, शाहजहां और जहांगीर ने इस शहर में कई शानदार संरचनाओं का निर्माण करवाया है।

आगरा में आप ताज महल, आगरा का किला, फतेहपुरी सीकरी और जामा मस्जिद आदि देख सकते हैं।PC: Unknown

जयपुर

जयपुर

राजस्‍थान के गुलाबी शहर जयपुर में भारत के कई शक्‍तिशाली साम्राज्‍यों का राज रहा है। इस शहर में अनेक किले और मंदिर हैं जो हज़ारों की संख्‍या में पर्यटकों को हर साल यहां आने के लिए आकर्षित करते हैं। जयपुर भारत के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है।

राजस्‍थान को राजाओं की भूमि भी कहा जा सकता है। इसके जोधपुर, जैसलमेर आदि जैसे शहर सांस्‍कृतिक रूप से समृद्ध हैं जो आपको इतिहास से रूबरू करवाएंगें। जयपुर में हवा महल, सिटी पैलेस, नाहरगढ़ किला आदि देख सकते हैं।PC: Unknown

दिल्‍ली

दिल्‍ली

मुगल राजवंश ने आगरा से दिल्‍ली को अपनी राजधानी बनाया था और कुछ सालों तक उन्‍होंने दिल्‍ली पर भी राज किया था। दिल्‍ली में भी मुगल स्‍थापत्‍यकला की झलक देख सकते हैं।

देश की राजधानी दिल्‍ली में कई संस्‍कृतियों का मेल देखा जा सकता है। दिल्‍ली शहर की चमक कभी फीकी नहीं पड़ती है। यहां पर आप कुतुब मीनार, लाल किला, अक्षरधाम मंदिर और जामा मस्जिद जैसी कई ऐतिहासिक इमारतों को देख सकते हैं।PC:unknown

अहमदाबाद

अहमदाबाद

कई कारणों से हाल ही में अहमदाबाद को विश्‍व धरोहर शहर घोषित किया गया है। यहां पर अनेक इंडो-मुस्लिम स्‍थाप्‍त्‍यकला की उत्‍कृष्‍ट संरचना देख सकते हैं। ये शहर गांधी जी के आज़ादी आंदोलन का केंद्र रहा है।

अहमदाबाद की सड़के और इमारतें आपको इस शहर के इतिहास के बारे में बताएंगें। अहमदाबाद की कुछ शानदार जगहों में स्‍वामीनारायण मं‍दिर, साबरमती आश्रम, सिदि सईद मस्जिद आदि मशहूर हैं।PC:Spundun

कोलकाता

कोलकाता

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का इतिहास बेहद पुराना है। इसे भारत की सांस्‍कृतिक राजधानी भी कहा जाता है। यहां पर विक्‍टोरिया शैली में बनी इमारतें और हिंदू-ब्रिटिश संस्‍कृति का समावेश देख सकते हैं।

कोलकाता में विक्‍टोरिया महल, हावड़ा ब्रिज, बेलूर मठ, विलियम फोर्ट आदि देख सकते हैं। इसके अलावा कोलकाता की मशहूर मिठाई रसगुल्‍ला और मिष्‍टी दही खाना ना भूलें।PC:Tapas Biswas

पॉन्डिचेरी

पॉन्डिचेरी

दक्षिण भारत का खूबसूरत तटीय शहर पॉन्डिचेरी में फ्रांस की झलक देख सकते हैं। देश के इस हिस्‍से में फ्रेंच कॉलोनियां बसी थीं जिन्‍हें आप आज भी यहां देख सकते हैं। फ्रेंच के प्रभाव के कारण पॉन्‍डिचेरी में फ्रेंच संस्‍कृति, वास्‍तुकला, खानपान आदि की झलक देखी जा सकती है। यहां पर रोड़ साइन भी अंग्रेजी या तमिल भाषा की जगह फ्रेंच भाषा में लगे

हैं। इस शहर में बड़ी संख्‍या में लोग फ्रेंच भाषा बोलते हैं और यहां पर स्थित कई रेस्‍टोरेंट में फ्रेंच खाना मिलता है। पॉन्डिचेरी एक छोटी सी जगह है जिसे आप मात्र एक दिन में पूरा देख सकते हैं। अगर आपके पास ज्‍यादा समय है तो आप इसके खूबसूरत तटों पर आराम भी फरमा सकते हैं।

पॉन्‍डिचेरी में पैराडाइज़ बीच, ऑरोविल्‍ले बीच और ऑरोविल्‍ले आश्रम आदि देख सकते हैं। पॉन्डिचेरी में फ्रेंच कॉलोनी का प्रभाव साफ दिखता है।PC:Dey.sandip

जोधपुर

जोधपुर

थार रेगिस्‍तान के मध्‍य में स्थित खूबसूरत जोधपुर शहर अपनी विभिन्‍नताओं के लिए देशभर में मशहूर है। जोधपुर शहर के किले पर्यटकों को यहां आने के लिए मजबूर कर देते हैं। यहां के किलों पर की गई नक्‍काशी कला का बेजोड़ नमूना है। प्राचीन कलाकारों की प्रतिभा को किलों और इमारतों के रूप में देखकर पर्यटक अचंभित हो जाते हैं। ये शहर पर्यटकों के अलावा फिल्‍म मेकर्स को भी अपनी ओर आकर्षित करती है।

जोधपुर में कई किले और महल हैं जिनकी स्‍थापना राठौड़ के प्रमुख राजपूतों द्वारा की गई थी। इस शहर में मेहरानगढ़ कला, उमैद भवन, बलसामंद झील आदि देख सकते हैं।PC: Ajajr101

हंपी

हंपी

तुंगभद्रा नदी के तट पर बसा कर्नाटक का हंपी शहर प्राचीन समय में विजयनगर राजवंश की राजधानी हुआ करता था। हंपी नाम तुंगभद्रा नदी के पुराने नाम पंपा से पड़ा है जोकि ब्रह्मा जी की पुत्री हैं। इस शहर को यूनेस्‍को द्वारा विश्‍व धरोहर की सूची में शामिल किया गया है क्‍योंकि इस शहर में विजयनगर शासनकाल के अनेक मंदिर और महल मौजूद हैं।

हंपी का नाम आते ही सबसे पहले विजयनगर की शानदार इमारतें याद आ जाती हैं। हालांकि, अब यहां स्‍थापित सभी इमारतें खंडहर हो चुके हैं। विजयनगर साम्राज्‍य का शासन हंपी पर हुआ करता था और यहां पर आपको होयसला स्‍थापत्‍यकला की शानदार इमारतें देखने को मिलेंगीं।

हंपी आने वाले पर्यटकों को यहां सबसे ज्‍यादा मंदिर देखने का मौका मिलेगा। हंपी के सभी मंदिर बेहद शानदार और ऐतिहासिक हैं। हंपी का प्राचीन मंदिर विरुपाक्षा मंदिर बेहद खूबसूरत है। इस मंदिर में सालभर श्रद्धालुओं की भीड़ रहती है। हंपी में कृष्‍णा मंदिर, अच्‍युत्राय मंदिर और विट्टल मंदिर, हेमकूटा पर्वत आदि देख सकते हैं।PC: Joel Godwin

ओरछा

ओरछा

मध्‍य प्रदेश में बेतवा नदी के तट पर बसा ओरछा शहर भी मंदिरों और महलों से भरा है। इस शहर का आकर्षण आपको सालों पहले के समय में लग जाएगा।

इस शहर पर बुंदेला राजवंश का राज हुआ रकता था। यहां पर आप जहांगीर महल, राजा महल, फूल बाग और ओरछा की कई शानदार इमारतों के दर्शन कर सकते हैं।PC:Doron

कोच्चि

कोच्चि

कोच्चि शहर को कोचीन नाम से भी जाना जाता है। इसे अरब सागर की रानी भी कहा जाता है। इस शहर में डच, पुर्तगाली और ब्रिटिश आदि का प्रभाव देखा जा सकता है।

इस शहर में जीउ टाउन को कोच्चि का किला आदि देख सकते हैं। इसके अलावा मरीन ड्राइव पर भी घूम सकते हैं।PC:Sannxavier

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स