» »अब खाने का स्वाद भी बढ़ाएगी आपकी केरला की ट्रिप...

अब खाने का स्वाद भी बढ़ाएगी आपकी केरला की ट्रिप...

Written By: Goldi

दक्षिण भारत के खूबसूरत राज्यों में से एक केरल, जिसे "भगवान का अपना देश भी कहा जाता है। इसकी जितनी तारीफ़ की जाये उतनी कम है। समंदर का जो रूप केरल में है वह शायद हिंदुस्तान के किसी हिस्से में ना हो। हरियाली ऐसी की पहाड़ों को भी मात दे जाए। केरल किसी भी प्रकार के परिवार की छुट्टी या हनीमून के लिए दुनिया में सबसे अच्छे स्थलों में से एक है। यह संस्कृतियों, परम्पराओं और लोक नृत्यों का क्षेत्र है। केरल की खूबसूरती आँखों की प्यास को बढ़ाती है और अपनी ओर आकर्षित करती है।

AWESOME: केरल की कुछ खास बातें, जिसे आप ज़रूर करेंगे पसंद

केरल सिर्फ हिलस्टेशन या बीच के लिए ही लोकप्रिय नहीं है, बल्कि यहां से आप जमकर खरीददारी भी कर सकते हैं..जी हां, अगर अभी तक आपको नहीं पता था तो बता दें, केरल में कई सारी ऐसी चीजें हैं, जो यहां सस्ती भी है और अच्छी जैसे मसाले..जी हां केरल के मसाले तो जगजाहिर है, इसके अलावा यहां से काजू,चाय, कॉफ़ी, अन्य चीजों की शॉपिंग की जा सकती है...

मसाले

मसाले

केरल के मसाले तो जगजाहिर है, केरल में आप पेरियार, थेक्कडी और कुमिली जैसे क्षेत्रों से ताजा काली मिर्च, जायफल, इलायची और लौंग आदि खरीद सकते हैं..खास बात है कि, आप इन्हें सीधे मसालों के बाग़ से खरीद सकते हैं..साथ ही आप मसालों के खेतों का दौरा भी कर सकते हैं...इसके अलावा आप आसपास की दुकानों से भी ताजे मसाले की खरीददारी कर सकते हैं ।PC: McKay Savage

चाय/कॉफ़ी

चाय/कॉफ़ी

अगर आप सुबह कॉफ़ी या चाय पीना पसंद करते हैं..तो केरल आपके लिए एकदम परफेक्ट जगह है...केरल के प्रमुख क्षेत्र ऊटी, मुन्नार घूमते हुए चाय/कॉफ़ी ले सकते हैं...साथ ही आप चाय की फैक्ट्री में भी जा सकते हैं..और विभिन्न चाय और कॉफी किस्मों के उत्पादन और खेती के बारे में जानें।PC: Sibyperiyar

कॉयर हस्तशिल्प

कॉयर हस्तशिल्प

केरल अपनी पर्यावरण मित्रता के लिए जाना जाता है, जिसे आप यहां हस्तशिल्पों में भी देख सकते हैं। नारियल भूसा से बने, कॉयर राज्य के कुटीर उद्योग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पर्यटक रंगीन कॉयर मैट, कोस्टर और अन्य होम डेकोर आइटम यहां से खरीद सकते हैं।

शैल शोपीस

शैल शोपीस

शैल शोपीस पहले व्यापारिक मुद्रा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, कोरी सीशेल्स को पूरे केरल में देखा जा सकता है। हस्तनिर्मित स्मृति चिन्ह खरीदे जिसमें शोपीस, आभूषण और यहां तक ​​कि कपड़ों में भी शामिल हैं।

कथकली मास्क

कथकली मास्क

कथकली नृत्य का प्रारम्भ केरल में हुआ, और भव्य दृश्य प्रत्येक पारंपरिक उत्सव का हिस्सा है। नृत्य, थियेटर और संगीत के संयोजन के साथ, इस शास्त्रीय नृत्य को मुखौटा के समान दिखने वाले अलंकृत वेशभूषा और रंगीन चेहरे के रंग का प्रदर्शन करने वाले कलाकारों के साथ चिह्नित किया जाता है।PC:yue

कासव मुंडु

कासव मुंडु

सुरुचिपूर्ण परिधानों के प्रतीक, और आम तौर पर समारोहों के दौरान पहना जाता है, कासव मुंडू केरल की परंपरागत सूती कपड़ा एक सोने की जड़ी सीमा के साथ है उपलब्ध विस्तृत रेंज से एक हैंडलूम साड़ी या ढोती उठाएं फैशन के रुझान को बदलने के साथ, आप रंगीन सीमाओं के साथ कसवु मन्दूस भी पा सकते हैं।

नेटीपट्टम

नेटीपट्टम

नेटीपट्टम को हाथी के सिर पर बांधा जाता है,इसे आप घर की साज सज्जा के लिए खरीद सकते हैं...

काजू

काजू

कोलम के समुद्रतट बंदर को 'दुनिया का काजू राजधानी' के रूप में जाना जाता है, जो भारत के लगभग 80% निर्यात-गुणवत्ता के काजू यहां बनते है। यहां से आप भुना हुआ, तला हुआ, नमकीन, सादे तरह के काजू खरीद सकते हैं..काजू सिर्फ कोल्लम में ही नहीं बल्कि पूरे केरल में कहीं से भी खरीदे जा सकते हैं...PC:Vinayaraj