» »सर्दियों में इन खूबसूरत जगहों की कर सकते हैं सैर

सर्दियों में इन खूबसूरत जगहों की कर सकते हैं सैर

By: Namrata Shatsri

सर्दियों का मौसम एक ऐसा मौसम है, जो अमूमन सभी को पसंद होता है। खासकर यात्रा करने के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। इस दौरान ना तो मॉनसून की बारिश आपकी यात्रा को खराब कर सकती और ना ही इस महीने में पसीने से हाल बेहाल होता है। इस दौरान देश के कई हिस्‍सों में रंग-बिरंगे और सांस्‍कृतिक त्‍योहार भी मनाए जाते हैं।इस दौरान पूर्वोत्तर भारत के लोग गर्मी से छुटकारा पाकर कहीं घूमने की सोचते हैं। वहीं पश्चिमी और उत्तरी हिस्‍सों के लोग अपने यहां पर्यटकों का इंतज़ार करते हैं।

सुहावने मौसम के कारण सर्दियों के दौरान पर्यटक और यात्री सबसे ज्‍यादा घूमने निकलते हैं। तो चलिए जानते हैं कि इस खूबसूरत मौसम में आप कहां घूमने जा सकते हैं।

पोर्ट ब्‍लेयर

पोर्ट ब्‍लेयर

पोर्ट ब्‍लेयर, अंडमान और निकोबार आइलैंड की राजधानी है। ये शहर ऐतिहासिक महत्‍व रखता है। नवंबर के महीने में घूमने के लिए सबसे बेहतर जगहों में से एक है। खूबसूरत स्‍थलों के अलावा यहां कई एडवेंचर स्‍पोर्ट्स जैसे स्‍नोरकेलिंग, स्‍कूबा डाइविंग और कूज़ तक का मज़ा ले सकते हैं।

इस शहर में कई खूबसूरत आइलैंड भी हैं जिन्‍हें आप एक ही दिन में घूम सकते हैं।

पॉन्‍डिचेरी

पॉन्‍डिचेरी

पॉन्डिचेरी और पुडुचेरी दक्षिणी भारत में सुंदर केंद्र शासित प्रदेश है। ये जगह बीते युग की कृत्रिमता को दर्शाती है। ये जगह देश की फ्रेंच कॉलोनियों में से एक है। आजादी के बाद फ्रेंचों ने इस जगह को छोड दिया था लेकिन यहां पर उनके प्रभाव को अभी भी देखा जा सकता है। इस समुद्रतटीय शहर के हर कोने में फ्रेंचों का प्रभाव देखने को मिलता है।

इसे पुंडु भी कहा जाता है और यहां ऐतिहासिक के साथ-साथ धार्मिक स्‍थल भी देखे जा सकते हैं। इस जगह आप बहुत कम पैसों में घूम सकते हैं।

भुज

भुज

भुज शहर का अपना ही एक अलग आकर्षण है जो बड़ी संख्‍या में पर्यटकों को आकर्षित करता है। ये जगह रण ऑफ कच्‍छ के काफी नज़दीक है। रण उत्‍सव देखने के लिए भी भुज आ सकते हैं।

हर साल नवंबर के महीने में रण उत्‍सव मनाया जाता है। इस उत्‍सव में गुजरात की सांस्‍कृतिक वि‍भिन्‍नता को देखा जा सकता है। 2018 में य उत्‍सव1 नवंबर से शुरु होकर 20 फरवरी तक चलेगा।
PC:Rahul Zota

 जैसलमेर

जैसलमेर

जैसलमेर को गोल्‍डन सिटी भी कहा जाता है।सर्दियों के दौरान यह जगह घूमने के लिए ये बढ़िया है। इस जगह समृद्ध इतिहास, संस्‍कृति और वास्‍तुकला को देखा जा सकता है। जैसलमेर थार रेगिस्‍तान में स्थित है।

सर्दियों के दौरान जैसलमेर के रेगिस्‍तान ठंडे रहते हैं इसलिए इस समय यहां आना बेहतर रहता है। जैसलमेर की सड़कों पर सैर, लोकल मार्केट में खरीदारी और राजस्‍थानी खाने का स्‍वाद ले सकते हैं।

कुर्ग

कुर्ग

पश्चिमी कर्नाटक के पश्चिमी घाट में स्थित कुर्ग और कोडागु दो प्रशासनिक जिले हैं। ये जगह कॉफी, लोगों और भौगोलिक स्थिति के लिए मशहूर है। वन्‍यजीव और वनस्‍पति से लेकर मठों तक कुर्ग में पर्यटकों को सब कुछ मिलेगा।

कुर्ग में टाइगर रिज़र्व है नागरहोल नेशनल पार्क। इस पार्क में वनस्‍पति और वन्‍यजीव, घाटियां और पर्वत हैं। कुर्ग का अन्‍य खूबसूरत स्‍थल है ब्रह्मगिरी पर्वत यहां से आप इस क्षेत्र के वन्‍यजीवन को देख सकते हैं। छुट्टियां मनाने के अलावा कुर्ग एक तीर्थस्‍थल भी है क्‍योंकि यहां पर अनेक मंदिर हैं। कुर्ग के प्रसिद्ध मंदिर हैं ओंकारेश्‍वर और बागमंडला मंदिर।

मॉनसून के अलावा कुर्ग वॉटर राफ्टिंग और यहां पर करवाए जाने वाले कई तरह के वॉटर स्‍पोर्ट्स के लिए मशहूर है। अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं तो इस क्षेत्र के स्‍वादिष्‍ट पोर्क व्‍यंजन जरूर चखें। सर्दी के मौसम में बड़ी संख्‍या में पर्यटक यहां हनीमून मनाने आते हैं।

PC:Rajeev Rajagopalan

हंपी

हंपी

तुंगभद्रा नदी के तट पर बसा कर्नाटक का हंपी शहर प्राचीन समय में विजयनगर राजवंश की राजधानी हुआ करता था। हंपी नाम तुंगभद्रा नदी के पुराने नाम पंपा से पड़ा है जोकि ब्रह्मा जी की पुत्री हैं। इस शहर को यूनेस्‍को द्वारा विश्‍व धरोहर की सूची में शामिल किया गया है क्‍योंकि इस शहर में विजयनगर शासनकाल के अनेक मंदिर और महल मौजूद हैं। बैंगलोर से 350 किमी दूर स्थित इस ऐतिहासिक शहर हंपी को देखने आप वीकएंड पर आ सकते हैं।

यहां पर कई व्‍यूप्‍वाइंट हैं जहां से सूर्यास्‍त का बेहद खूबसूरत नज़ारा दिखाई देता है। नीले आकाश के बीच बैठकर इस शहर के सौंदर्य को निहारना वाकई खूबसूरत अनुभव होता है। इसके साथ ही तुंगभद्रा नदी बहती है जिससे कुछ दूरी पर विरुपक्षा मंदिर भी है।

PC:Ram Nagesh Thota

वाराणसी

वाराणसी

वाराणसी शहर भारत के सबसे प्राचीन शहरों में से एक है। पवित्र गंगा नदी के किनारे पर बसा प्राचीन शहर वाराणसी, उत्तर प्रदेश राज्‍य में स्थित है। वाराणसी को बनारस और काशी के नाम से भी जाना जाता है और इसे भारत के सात पवित्र शहरों में से एक माना जाता है। इस शहर में आप मनुष्‍य के जीवन का हर पहलू, जन्‍म से लेकर मृत्‍यु तक को देख सकते हैं। मान्‍यता है कि जिस व्‍यक्‍ति की इस पवित्र स्‍थान में मृत्‍यु होती है उसे जीवन-मृत्‍यु के चक्र से मुक्‍ति मिल जाती है और उसे मोक्ष की प्राप्‍ति होती है।