• Follow NativePlanet
Share
» »साउथ इंडियन फिल्मों ने तो नहीं लेकिन इस खास चीज के दीवाने हैं नार्थइंडियन

साउथ इंडियन फिल्मों ने तो नहीं लेकिन इस खास चीज के दीवाने हैं नार्थइंडियन

Written By:

इसमें कोई शक नहीं की टेक्नोलॉजी ने काफी कुछ बदल दिया है...पहले हम दक्षिण भारत को सिर्फ किताबों के जरिये या फिर टीवी के जरिये जानते समझते थे।लेकिन अब जमाना आधुनिकता और तकनीकी का है, जिसके जरिये हम घर बैठे सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया का चक्कर लगा लेते हैं।

विंटर वैकेशन में दिल्ली के पास घूमे ये खास जगह

पहले हमारे घूमने का दायरा शायद काफी छोटा था, जो अब धीरे धीरे बढ़ रहा है...मै खुद एक उत्तर भारतीय हूं और बैंगलोर में रहती हूं, बीते कुछ सालों में मैंने यहां अनुभव किया है, दक्षिण भारतीय लोग हिमाचल की बर्फ, काशी ,दिल्ली का लाल किला आदि देखने को ललियत रहते हैं। तो वहीं उत्तर भारतीय केरल के मुन्नार के चाय के बगान,खूबसूरत समुद्री तट, ऊटी आदि देखने को उत्साहित रहते हैं।

2017 में पर्यटकों की पहली पसंद बने भारत के ये ट्रैकिंग डेस्टिनेशन..आप भी करें ट्राय

दक्षिण भारत की खूबसूरती को शब्दों में बयाँ कर पाना बेहद मुश्किल है...बीते कुछ सालों से दक्षिण भारत उत्तर भारतीयों की पसंदीदा हॉलिडे डेस्टिनेशन बन चुका है..तो आइये जानते हैं स्लाइड्स में कि, दक्षिण भारत की किन किन जगहों के दीवाने हैं नार्थ इंडियन..

मुन्नार

मुन्नार

उत्तर भारतीय लोग दक्षिण भारत की खास जगहों से ही रूबरू हैं, जिसमे पहला नाम आता है मुन्नार का । मुन्नार की अथाह खूबसूरती सिर्फ उत्तर भारतीयों को ही नहीं बल्कि विदेशी पर्यटकों को भी अपनी ओर लुभाती है। मुन्नार केरल के इद्दुकी जिले में स्थित है। मुन्‍नार एक मलयालम शब्द है जिसका अर्थ होता है तीन नदियों का संगम यहां आपको तीन नदियां मधुरपुजहा, नल्‍लाथन्‍नी और कुंडाली एक ही स्थान पर मिलती हुई दिखाई देंगी। पर्यटक यहां के दूर - दूर तक फैले मखमली घास के मैदानों और वृक्षों की कतारों में भी कैजुअली इधर - उधर टहल सकते हैं या विचरण कर सकते हैं। यहां पर चिडि़यों को देखना भी एक बेहद लोकप्रिय गतिविधि है क्‍यूंकि इस क्षेत्र में कई प्रकार की दुर्लभ प्रजातियों का घर भी है। बाइकर्स और ट्रैकर्स इस जगह को एंडवेचर गेम्‍स के लिए स्‍वर्ग मानते है इसीलिए काफी अच्‍छी संख्‍या में बाइकिंग और ट्रैकिंग ट्रेल्‍स के शौकीन लोग मुन्‍नार में आते हैं। पर्यटक मुन्नार में देविकुलम,मट्टूपेटी ,इको पॉइंट आदि देख सकते हैं।Pc:Rameshng

अलेप्पी

अलेप्पी

यूं तो भारत में कई हनीमून डेस्टिनेशन हैं, लेकिन बीते कुछ सालों से उत्तर भारतीयों के बीच अलेप्पी काफी लोकप्रिय है..अलेप्पी को बैक वाटर हाउस के लिए जाना जाता है। अलेप्पी को पूरब का वेनिस कहा जाता है। यहाँ की नहरों और पाम के पेड़ों के बीच स्थित सुन्दर जलभराव और हरियाली रोमाँच को जागृत कर आपको कल्पनाओं के नये आयाम में पहुँचा देते हैं। केरल के प्रथम योजनाबद्द तरीके से निर्मित शहरों में से एक, इस शहर में जलमार्ग के कई गलियारे हैं जो वास्तव में एक स्थान से दूसरे स्थान जाने में मदद करते हैं और आपकी यात्रा को यादगार बनाते हैं। पानी पर तैरते हुए खूबसूरत नजारों को गुजरते देखना साथ रहने का अद्भुत एहसास कराता है। अपने बजट के हिसाब से आप हाउसबोट का चुनाव कर सकते हैं। बोट पर परोसे जाने वाले व्यंजन और यहां से दिखने वाला अद्भुत नजारा आपको दोबारा यहां आने के लिए विवश कर देगा।Pc:Avinash Singh

हम्पी

हम्पी

बैंगलोर से करीबन 350 किमी की दूरी पर स्थित हम्पी एक प्राचीन शहर है और इसका जिक्र रामायण में भी किया गया है और इतिहासकारों के अनुसार इसे किष्किन्धा के नाम से बुलाया जाता था, वास्तव में 13वीं से 16वीं सदी तक यह शहर विजयनगर राजाओं की राजधानी के रुप में समृद्ध हुआ। आज यहां सिर्फ खंड़हरों को देखा जा सकता है...इन खंड़हरों की भव्यता को पूर्ण रुप से अनुभव करने के लिए, अन्य पर्यटकों की तरह आप भी एक किराए के साइकिल द्वारा अपने खाली समय में इन खंड़हरों की सैर कर सकते हैं। यहां कई प्रसिद्ध मंदिर हैं जिनमें वीरूपाक्ष मंदिर, विट्ठल मंदिर और अंजनियाद्री मंदिर शामिल हैं। कर्नाटक की प्रमुख नदियों में से एक तुंगभद्रा नदी, इस शहर में बहती है, तथा इन खंड़हरों के पास एक विस्मयदायक प्राकृतिक वातावरण को प्रदान करती है।Pc:Hawinprinto

ऊटी

ऊटी

तमिलनाडू का खूबसूरत शहर ऊटी अपने मनोरम नजारों के लिए विश्व विखाय्त है... इतना ही नहीं इसकी खूबसूरती के कारण इसे 'पहाड़ों की रानी' भी कहा जाता है। ऊटी कुदरत का खूबसूरत जीता जागता उदाहरण है जो अपने सौंदर्य के लिए तो जाना जाता ही है साथ ही दूर तक फैली हसीन वादियां और उन वादियों में ढके आकर्षण वृक्ष ऐसे सुकून देते हैं जैसे कोई बच्चा नींद के की गोद में सुकून व आनंद महसूस करता हो। पर्यटक यहां ऊटी झील,लेक गार्डन ,केटी वैली, आदि घूम सकते हैं ।Pc:Sankara Subramanian

बैंगलोर

बैंगलोर

हब ऑफ़ आईटी बेंगलुरु भी उत्तर भारतीयों की पहली पसंद है..कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में पर्यटकों के घूमने के कई विकल्प है..एक तरह से बेंगलुरु पर्यटकों के लिए स्वर्ग है। यहां जवाहरलाल नेहरू तारामंडल, लाल बाग, कब्बन पार्क, द एक्वेरियम, वेनकटप्पा आर्ट गैलरी, विधान सौधा, बनरगट्टा नेशनल पार्क आदि जाने-माने पर्यटन स्थल हैं।Pc:Amit

हैदराबाद

हैदराबाद

निजामों के शहर और मोतियों के शहर के नाम से विखाय्त हैदराबाद उत्तर भारतीयों के बीच खासा प्रसिद्ध है। हैदराबाद की खूबसूरती चारों तरफ खड़ी पहाड़ियों और उनके बीचो-बीच बहती मूसा नदी में देखी जा सकती है। इस नगर की खासियत यह है कि यहाँ का मौसम पूरे साल सुहावना व एक जैसा रहता है। निजामी ठाठ-बाट वाले इस शहर में मुख्य आकर्षण चारमीनार, हुसैन सागर झील, बिड़ला मंदिर, सालारजंग संग्रहालय आदि है जो इस शहर को अलग पहचान देते हैं।
Pc:Srikar Kashyap

चेन्नई

चेन्नई

तमिलनाडू की राजधानी चेन्नई भी उत्तर भारतीयों के बीच खासा लोकप्रिय है..यहां पूरे साल ही चिलचिलाती गर्मी पड़ती है और इस वजह से यहां पर घूमना थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन नवंबर से फरवरी के बीच चेन्‍नई का मौसम सबसे ज्‍यादा सुहावना रहता है और इस दौरान आप यहां घूम सकते हैं।Pc:KARTY JazZ

पांडिचेरी

पांडिचेरी

पांडिचेरी इसे प्यार से ' पोंडी ' के रूप में जाना जाता है जो अपने शांत,साफ सड़को और औपनिवेशिक टाउनहाउस के लिए प्रसिद्ध है, यह पूर्व फ्रांसीसी उपनिवेश शांति का एक समुद्र है। श्री अरबिंदो आश्रम में बहुत ही शांतिपूर्ण माहौल होता है। सबसे प्रसिद्ध ऐतिहासिक श्री अरबिंदो आश्रम 1926 में स्थापित किया गया था।Pc:Kalyan Kanuri

तिरुपति

तिरुपति

हर उत्तर भारतीय की इच्छा रामेश्वरम और तिरुपति बालाजी के दर्शन करने की होती है, यह मंदिर बैंगलोर और चेन्नई के निकट स्थित है,तिरुपति धर्म के सबसे अमीर तीर्थ केंद्रों में से एक है और दुनिया में सबसे प्रसिद्ध मंदिर के रूप में माना जाता है। शहर के भव्य ऐतिहासिक स्मारकों में से एक है जो पर्यटकों के लिए गतिविधि दर्शनीय स्थल है।Pc:vimal_kalyan

रामेश्वरम

रामेश्वरम

रामेश्वरम समुद्र की गोद में बसा एक बेहद खूबसूरत दर्शनीय स्थल होने के साथ साथ तीर्थ स्थल भी है जो कि चार धामों में से एक धाम है। यहाँ हर साल हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु अपनी आस्थाओं में लिपटी भगवान के प्रति प्रेम को दर्शाने आते हैं। रामेश्वरम तमिलनाडु का एक आकर्षक शहर चेन्नई से तक़रीबन 592 किलोमीटर की दूरी पर है। कहा जाता है कि जब भगवान राम लंका को जीतकर वापस लौटे तो उन्होंने भगवान शिव के प्रति अपनी प्रेम भावना को दर्शाने के लिए इस मंदिर का निर्माण करवाया। यह मंदिर विश्व के बेहतरीन कलात्मक शैली और आस्थाओं से सराबोर मंदिरों में से एक है।Pc:Vinayaraj

कन्याकुमारी

कन्याकुमारी

कश्मीर से कन्याकुमारी गाना तो सुना ही होगा, अगर किसी की इच्छा कश्मीर से कन्याकुमारी घूमने की होती है, कन्याकुमारी, जो कि पूर्व में केप कैमोरिन के नाम से प्रसिद्ध था, भारत के तमिलनाडु में स्थित है। यह भारतीय प्रायद्वीप के सबसे दक्षिणी छोर पर स्थित है। कन्याकुमारी ऐसे स्थान पर स्थित है जहाँ पर हिन्द महासागर, बंगाल की खाड़ी और अरब सागर मिलते हैं। केरल प्रदेश इसके उत्तर पश्चिमी और पश्चिमी इलाके में स्थित है जबकि तिरूनेलवेलि जिला इसके उत्तरी और पूर्वी भाग में स्थित है। केरल की राजधानी तिरूवनन्तपुरम कन्याकुमारी से 85 किमी की दूरी पर है। पर्यटक यहां कन्याकुमारी मन्दिर, चिथराल हिल मन्दिर और जैन स्मारक, नागराज मन्दिर, सुब्रमण्यम मन्दिर और थिरुनन्धिकाराइ गुफा मन्दिर आदि देख सकते हैं। अगर आप एडवेंचर लवर हैं , तो समुद्रतट उन रोमांच पसन्द लोगों के लिये प्रमुख आकर्षण हैं।Pc:Ravivg5

कोडैकानल

कोडैकानल

कोडैकानल एक और खिलखिलाता हुआ हिल स्टेशन है, जो आपको एक अलग ही दुनिया में होने का एहसास कराएगा। मंत्रमुग्ध कर देने वाली हरी घनी पहाड़ियां, झीले, जिसमें आप बोटिंग का भी आनंद ले सकते हैं और चलने के लिए लकड़ी बनी ढलाने कोडियाकनाल को एक आदर्श हिलस्टेशन और हनीमून बना देता है। पर्यटक यहां कोडिया झील, बीयर शोला फॉल्स, कोकर्स वॉक, बायरंट पार्क और पीलर रॉक्स जैसी जगह घूमना न भूलें।Pc:Challiyan

पोर्ट ब्लेयर

पोर्ट ब्लेयर

अंडमान निकोबार द्वीप समूह की राजधानी पोर्ट ब्लेयर बेहद आकर्षक पर्यटन स्थल बन चूका है जो कभी काला पानी के नाम से जाना जाता था। स्वतंत्रता संग्राम के समय काला पानी सेनानियों के लिए भूतग्रह के बराबर था। जिसका नाम सुनते ही कैदियों की जान निकल जाया करती थी। लेकिन आज यह पर्यटन स्थलों में अपनी अलग पहचान रखता है जो अब भूतग्रह न होकर के तीर्थ स्थलों में माना जाता है।Pc: Voguru

कोवलम

कोवलम

कोवलम केरल के प्रसिद्ध समुद्री तटों में से एक है, इस बीच पर नये साल के दौरान पर्यटकों का जमावड़ा बखूबी देखा जा सकता है। पर्यटक यहां एडवेंचर स्पोर्ट्स के अलावा आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट आदि का मजा ले सकते हैं।Pc:Balaji Photography - 4,00

गोकर्णा

गोकर्णा

गोकर्णा अगर आप शांत समुद्री तट की तलाश में हैं, तो आपको गोकर्णा की ओर रुख करना चाहिए..यहां का कुडेल तट, गोकर्ण तट, हॉफ मून तट, पैराडाइज तट और ओम तट यहां के पांच प्रमुख तट है जो पर्यटकों का मन मोह लेते है। यहां असीम शांति के बीच पार्टनर का हाथ पकड़कर समुद्री तट पर चलना काफी रूमानी सा है।Pc:Saransh Gupta

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Nativeplanet sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Nativeplanet website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more