• Follow NativePlanet
Share
» »भारत की इन जगहों को जन्नत समझते हैं विदेशी सैलानी

भारत की इन जगहों को जन्नत समझते हैं विदेशी सैलानी

मेहमान नवाजी के मामले में भारत विश्व का एकमात्र ऐसा देश है जो हर मुल्क के सैलानियों का स्वागत करता है। यहां जिस तरह विदेशियों को सम्मान और सत्कार की दृष्टि से देखा जाता है वैसा आप बड़े से बड़े आधुनिक देशों में नहीं देख सकते है। इस उदारपन की सबसे बड़ी वजह है भारत की अनोखी संस्कृति जो अतिथि देवो भव : जैसे सिद्धांतों का अनुसरण करती है। यानी यहां महमानों को भगवान के रूप में देखा जाता है।

शायद इसलिए विश्व के कोनों-कोनों से पर्यटक भारत भ्रमण के लिए आते हैं। आज इस खास लेख में जानिए भारत की उन चुनिंदा जगहों के बारे में जिन्हें विदेशी सैलानी जन्नत से कम नहीं समझते... भारत आगमन के दौरान वे इन जगहों की सैर  करना जरूर पसंद करते हैं।  

जयपुर, राजस्थान

जयपुर, राजस्थान

PC- Knowledge Seeker

गुलाबी नगरी के नाम से मशहूर राजस्थान का राजधानी शहर जयपुर भारत आए विदेशियों का चुनिंदा सबसे पसंदीदा जगहों में गिना जाता है। यहां के ऊंचे-ऊंचे महल, किले व प्राचीन बावड़ियां विदेशी सैलानियों को बहुत भांते हैं। उनके लिए ये सारी चीजे अनोखी हैं इसलिए यहां की खूबसूरती उन्हें ज्यादा आकर्षित करती हैं।

खासकर विदेसी ब्लॉगर्स-ट्रैवलर्स भारत आना बेहद पसंद करते हैं, उनके लिए हर बार भारत आना एक अलग अनुभव होता है, जिसे वे बार-बार लेने की इच्छा जताकर यहां से अपने मुल्क के लिए रवाना होते हैं। गर्मी हो या सर्दी यहां सैलानियों का आवागमन लगा रहता है।

गर्मियों के दौरान यहां लें कैम्पिंग का रोमांचक अनुभव

गोवा

गोवा

PC- Vijay Tiwari

गोवा को भारत का विदेशी शहर कहा जाता है, जिसका सबसे बड़ा कारण विदेशी सैलानियों का लगातार आना जाना लगा रहना। दरअसल यह राज्य भारत के अन्य राज्यों से काफी अलग है यहां का अनुभव कुछ विदेशी शहरों जैसा ही लगता है, दूर-दूर तक फैले समुद्री तट, किनारे बसे नारियल के पेड़ यहां की शान हैं। गर्मियों के दौरान यह जगह देशी-विदेशी पर्यटकों से भर जाती है।

यहां साल में कई बार बड़े स्तर के कॉन्सर्ट आयोजित किए जाते हैं जिनका हिस्सा बनने के लिए कई विदेशी कलाकार यहां पहुंचते हैं। समुद्री तट पर बिछी रेत पर आराम फरमाना विदेशियों को बहुत अच्छा लगता है।

झारखंड जाएं तो इन खूबसूरत स्थलों की सैर जरूर करें

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर

PC- Rayeesmaqboolkashmir

जम्मू-कश्मीर के राजधानी शहर श्रीनगर को किसी परिचय की जरूरत नहीं...कश्मीर को पहले से ही जन्नत का दर्जा प्राप्त है। भारत आए सैलानियों में बीच श्रीनगर काफी प्रसिद्ध गंतव्य माना जाता है। जिसका सबसे बड़ा कारण है यहां की हसीन वादियां, ठंडक भरा माहौल और चारों तरफ फैली प्राकृतिक खूबसूरती। विदेशी पर्यटक ज्यादा प्रकृति प्रेमी होते हैं। उन्हें फोटोग्राफी करना बेहद पसंद है।

यहां मौजूद एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन विदेशियों के बीच काफी लोकप्रिय है। इसके अलावा यहां की प्रसिद्ध डल झील की सैर करना भी उन्हें बेहद पसंद है।

दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल

दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल

PC- Srikumar74

पश्चिम बंगाल का दार्जिलिंग भी विदेशी पर्यटकों के मध्य काफी लोकप्रिय है, राज्य का प्रसिद्ध हिल स्टेशन अपनी प्राकृति सौंदर्यता के लिए जाना जाता है। दरअसल यह हिल स्टेशन भारत में अंग्रेजों द्वारा ही बसाया गया था, यहां के चाय-कॉफी के बगानों के हरे-भरे दृश्य देखना विदेशी सैलानियों को काफी अच्छा लगता है। इसके अलावा यहां चलने वाली खास टॉय ट्रेन की सवारी करना सैलानियों का काफी पसंद है।

यहां से हिमालय की बर्फीली पहाड़ियों को निहारना किसी पूरे ख्वाब से कम नहीं। यहां बहुत से ऐसे खास प्वाइंट हैं जहां से ऊंची हिमालय चोटियों का दीदार किया जा सकता है।कोलकाता जाकर इन सस्ते स्ट्रीट फूड्स का लुत्फ जरूर उठाएं

वाराणसी, उत्तर प्रदेश

वाराणसी, उत्तर प्रदेश

PC- Jimmy Wales

धार्मिक पर्यटन के मामले में उत्तर प्रदेश का वाराणसी शहर भारी संख्या में विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करता है। वाराणसी भारत का एक पौराणिक शहर है जिसका इतिहास कई सालों पुराना है। यह शहर मुख्यत : अपने गंगा घाटों और काशी विश्वनाथ मंदिर के लिए जाना जाता है। विदेशियों को गंगा घाट की सैर करना बहुत पसंद हैं, इसलिए आप यहां साल के हर महीने विदेशी सैलानियों को देख सकते हैं।

इसके अलावा यहां के सबसे प्रसिद्ध अस्सी घाट पर होने वाली शाम की गंगा आरती में हिस्सा लेना भी पर्यटकों को काफी अच्छा लगता है।

 ऋषिकेश, उत्तराखंड

ऋषिकेश, उत्तराखंड

PC- Man

उपरोक्त स्थानों के अलावा उत्तराखंड का ऋषिकेश शहर भी विदेशी सैलानियों के लिए किसी जन्नत से कम नहीं। अध्यात्म की नगरी कहा जाने वाला यह शहर काफी संख्या में विदेशी सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करता है। जिसका सबसे बड़ा कारण यहां मौजूद आश्रम, योगशालाएं और एडवेंचर के लिए पहाड़ी घाटियां।

पहाड़ों से होती हुई ऋषिकेश पहुंचती गंगा नदी यहां का मुख्य आकर्षण है, जिसके किनारे यह पूरा शहर बसा है। सैलानियों को यहां रिवर रॉफ्टिंग, ट्रेंकिंग जैसे एडवेंचर करना बहुत पसंद है।

इन गुफाओं में रहते हैं भगवान शिव, प्रसन्न होने पर देते हैं दर्शन

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स