» »इन छुट्टियों सैर करें पश्चिम बंगाल की

इन छुट्टियों सैर करें पश्चिम बंगाल की

Written By: Goldi

भारत के पूर्वी भाग में स्थित पश्चिम बंगाल उत्तर में हिमालय से दक्षिण में बंगाल की खाड़ी तक फैला हुआ है।अपने गौरवशाली अतीत के अलावा आज पश्चिम बंगाल को वामपंथी प्रभुत्व के गढ़ के तौर पर देखा जाता है।

अगर आप एक किताबी कीड़ें हैं तो मुंबई के इन बेस्ट पुस्तकालयों में ज़रूर जाएँ!

किसी समय यह ब्रिटिश औपनिवेशिक गतिविधियों का केंद्र था तथा यहाँ की वास्तुकला और प्राचीन इमारतों में इसके प्रमाण आज भी मिलते हैं। पिछले कुछ वर्षों में पश्चिम बंगाल पर्यटन में वृद्धि हुई है जो पारंपरिक और आधुनिक संस्कृति का मिश्रण दर्शाता है तथा बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करता है।

राख से उत्पन्न हुआ रिवालसर सरोवर!

इसी क्रम में आज हम आपको कराते हैं पश्चिम बंगाल की यात्रा जो आपको ऐसे राज्य में ले जाएगी जहां देश में सबसे ज्यादा नोबेल पुरस्कार विजेताओं का जन्म हुआ है। इतना ही नहीं पश्चिम बंगाल दुनिया भर में मशहूर रहे असंख्य कवियों, चित्रकारों, फिल्मकारों और विद्वानों की धरती है।

रेस कोर्स

रेस कोर्स

रेस कोर्स कोलकाता मैदान के उत्तर-पश्चिमी कोने पर स्थित है। इस रेस कोर्स को डिजाइन रॉयल टर्फ ऑफ़ क्लब द्वारा किया गया था। इस रेस कोर्स में नवंबर से लेकर फरवरी तक यहां रेस आयोजित की जाती है।

विक्टोरिया मेमोरियल

विक्टोरिया मेमोरियल

विक्टोरिया मेमोरियल नदी हुगली के तट के मैदानों पर स्थित है और 1921 में बनकर पूरा हुआ। यह महारानी विक्टोरिया की याद में समर्पित है और वर्तमान में एक संग्रहालय है। 1901 में महारानी विक्टोरिया की मृत्यु के बाद, लॉर्ड कर्जन इस स्मारक के निर्माण के कमीशन और मुगल और ब्रिटिश शैली की एक अनूठी स्थापत्य मिश्रण में बनाया गया है। यह संग्रहालय विभिन्न पुरावशेषों और कलाकृतियों के 25 दीर्घाओं में शामिल है। भारत का सबसे बड़ा संग्रहालय है। भारत का सबसे बड़ा संग्रहालय है।

PC:Ibrahim Husain Meraj

चित्रकूट आर्ट गैलरी

चित्रकूट आर्ट गैलरी

कला शायद रचनात्मकता और अभिव्यक्ति की सबसे पुरानी शैली है। जीवन के अलग अलग क्षेत्रों से जुड़े लोग किसी ना किसी रुप में कला के प्रशंसक रहे हैं। कोलकाता में स्थित चित्रकूट आर्ट गैलरी में आप देश की चुनिंदा कलाकृतियां और प्रतिभाशाली युवा कलाकारों का बेहतरीन काम प्रदर्शित है। कोलकाता की भीड़, हलचल भरी सड़कों और ट्रैफिक के शोर के बीच चित्रकूट आर्ट गैलरी एक शांत कोने में स्थित है। आसपास के शोरगुल से दूर यह गैलरी राहत देती है।

ईडन गार्डन

ईडन गार्डन

ईडन गार्डन भारत में अंग्रेजों के आगमन के बाद देश को अपनी सबसे पसंदीदा खेल क्रिकेट दे दी गई है ।भारत में ईडन गार्डन एक बड़े पैमाने पर क्रिकेट का मैदान हैं और विश्व में तीसरें स्थान पर है। यह स्टेडियम भारत में सबसे प्रतिष्ठित क्रिकेट मैदान में से एक है और इंडियन प्रीमियर लीग में कोलकाता नाइट राइडर्स क्रिकेट क्लब के लिए घर है।
PC:Nahid Sultan

साइंस सिटी

साइंस सिटी

कोलकाता में स्थित साइंस सिटी साइंस सिटी एक विशाल इलाके में फैली है और पूर्वी मेट्रोपोलिटन बायपास के साथ पार्क सर्कस के जंक्शन पर स्थित है। यह भारतीय उपमहाद्वीप में अपने तरह का सबसे बड़ा विज्ञान केन्द्र है। यह भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के अन्तर्गत आता है।

बिड़ला तारामंडल

बिड़ला तारामंडल

कोलकाता का एक प्रमुख लैंडमार्क बिड़ला तारामंडल पश्चिम बंगाल में पूरे साल बड़ी तादाद में सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करता है।1962 में बिड़ला समूह के शैक्षिक ट्रस्ट द्वारा स्थापित बिड़ला तारामंडल को दुनिया की सबसे बड़ी वेधशाला होने का गौरव प्राप्त है।PC:Avrajyoti Mitra

हावड़ा ब्रिज

हावड़ा ब्रिज

हावड़ा ब्रिज कोलकाता के सबसे प्रसिद्ध स्थलों में से एक है जो पर्यटको को अपनी तरफ आकर्षित करती है। कोलकाता के हावड़ा ब्रिज को 'रवींद्र सेतु' के नाम से भी जाना जाता है। इसकी स्थापना 1874 में हुई थी। यह ब्रिज 270 फुट ऊंचे खंभे पर खड़ा है। हावड़ा पुल को दो बहनों के पुल के नाम से जाना जाता है ,अर्थात्, हुगली नदी पर विभिन्न बिंदुओं पर स्थित हैं विद्यासागर सेतु और विवेकानंद सेतु। यह पुल कोलकाता के एक महत्वपूर्ण प्रतीक के रूप में कार्य करता है।PC: joost J. Bakker

ललित कला अकादमी

ललित कला अकादमी

ललित कला अकादमी लोगों के समृद्ध कलात्मक कौशल और रचनात्मक कल्पनाशीलता को प्रदर्शित करती है। इस अकादमी में आकर पश्चिम बंगाल की सांस्कृतिक और पारंपरिक विरासत को आकर बखूबी देखा जा सकता है।

दुर्गा पूजा

दुर्गा पूजा

दुर्गा पूजा बंगाली समाज के लोग मां दुर्गा की पूजा का इंतज़ार पूरे साल करते हैं। वे इसे बेहद धूम-धाम से मनाते हैं। यह मां दुर्गा की पूजा करने के लिए मनाया जाता है , जिन्हे शक्ति की देवी भी कहा जाता है। यह राक्षस महिषासुर से अधिक मा दुर्गा की जीत का जश्न माना जाता है।कोलकाता की दुर्गा पूजा , भारत में आमतौर पर सितंबर-अक्टूबर से शरद ऋतु की अवधि के दौरान जगह लेता है। दुर्गा पूजा अनुष्ठानों की एक लंबी श्रृंखला का प्रदर्शन शामिल है।

निवेदिता सेतु

निवेदिता सेतु

निवेदिता सेतु छह किलोमीटर लंबा पुल है जोकि कोलकाता और राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 34 और 35 को भारत के अन्य राज्यों से जोड़ता है। इस पुल का निर्माण भारतीय और विदेशी मूल के कुछ प्रतिष्ठित संगठनों द्वारा प्रायोजित निवेदिता सेतु का निर्माण पहले एक टोल ब्रिज के तौर पर किया गया था।

कैसे जाएँ पश्चिम बंगाल

कैसे जाएँ पश्चिम बंगाल

हवाई मार्ग से
पश्चिम बंगाल का हवाई अड्डा राजधानी कोलकाता में स्थित है, अन्य दूसरा एयरपोर्ट उत्तरी बंगाल में सिलीगुड़ी के पास बागडोगरा में स्थित है। पश्चिम बंगाल के ज्यादातर पर्यटन स्थल कोलकाता और बागडोगरा से सुविधाजनक दूरी पर हैं।

रेल द्वारा
पश्चिम बंगाल के दो मुख्य रेलवे स्टेशन हैं, एक है कोलकाता के पास स्थित हावड़ा और दूसरा है सियालदेह और सिलीगुड़ी के पास स्थित जलपईगुड़ी। इनके अलावा और भी महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन हैं जहां देश भर से और राज्य के दूसरे हिस्सों से महत्वपूर्ण ट्रेनें आती हैं।

सड़क से
पशमी बंगाल नेशनल हाइवे से अच्छे से जुड़ा हुआ जय। राज्य से कई राष्ट्रीय राजमार्ग और राज्य राजमार्ग गुजरते हैं। इस राज्य तक पड़ोसी राज्यों, जैसे बिहार, उड़ीसा और झारखंड से भी पहुंचा जा सकता है।

Please Wait while comments are loading...