• Follow NativePlanet
Share
» »उत्तर प्रदेश की पवन धरती पर जन्मे थे राम-कृष्ण, तो शिव ने बसा दी थी वाराणसी

उत्तर प्रदेश की पवन धरती पर जन्मे थे राम-कृष्ण, तो शिव ने बसा दी थी वाराणसी

Written By:

भारत के समर्द्ध राज्यों में शुमार उत्तर प्रदेश ऐतिहासिक इमारतें, प्राचीन मंदिर, प्राचीन नगरियों, का घर है। उत्तर प्रदेश में कई जगह हैं, जो हजार वर्ष से भी पुरानी हैं। उत्तर प्रदेश कई जगह ऐसी हैं, जो राज्य के वास्तविक संस्कृति और इतिहास को दर्शाती हैं।

कहा जाता है, कि भारत में प्रचीन जगहों की स्थापना देवी-देवताओं द्वारा स्थापित किये गये हैं, जोकि आज के समय में बेहद पवित्र मानी जाती है,जैसे वाराणसी ,अयोध्या मथुरा आदि। तो क्यों ना इन छुट्टियों में उत्तर प्रदेश के प्राचीन नगरों की सैर की जाये, यकीनन इस यात्रा से आपको इन खास जगहों के बारे में काफी कुछ ज्ञान हासिल हो सकता है,जिसके बारे में आप अभी तक अनिभिज्ञ हों।

वाराणसी

वाराणसी

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी के नाम से विखाय्त वाराणसी भारत की सबसे प्राचीन नगरों में शुमार है। पौराणिक कथायों की माने तो इस खूबसूरत और पवित्र शहर की स्थापना भगवान शिव ने की थी। जिससे आज यह जगह भारत के पवित्र धार्मिक स्थानों में शुमार है।

कहा जाता है कि, अगर व्यक्ति का मृत्यु के पश्चात बनारस में अंतिम संस्कार किया जाये तो उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसलिए, इस आध्यात्मिक शहर को मुक्ति की उत्कृष्टता स्थल भी माना जाता है।

लखनऊ से 320 किमी की दूरी पर पवित्र नदी गंगा के तट पर स्थित वाराणसी उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है।

यहां आप उत्तर प्रदेश में संस्कृति, पुरानी परंपराओं और ऐतिहासिक स्थलों को देख सकते हैं। वाराणसी की यात्रा के दौरान आप इस शहर में खुद के अंदर एक अलग ही शक्ति का संचार महसूस कर सकते हैं, और हां इस शहर की यात्रा के दौरान गंगा में डुबकी लगाना कतई ना भूले।वाराणसी की यात्रा में करना न भूलें ये सारी चीजें!

हस्तिनापुर

हस्तिनापुर

Pc: Pratyk321
पांडवों और कौरवों के बीच हुए युद्ध और महाभारत के बारे में हम सभी बचपन से पढ़ते चले आ रहे हैं। वर्तमान में महाभारत में वर्णित हुई जगह हस्तिनापुर उत्तर प्रदेश के मेरठ में स्थित है, जो कई हिन्दू और जैन मन्दिरों का घर है।

हालांकि बदलते वक्त के साथ यहां कुछ अवशेष ही है, लेकिन अगर आप इतिहास प्रेमी है तो यहां कुछ विशेष जगहों को देख सकते हैं। वर्तमान में मेरठ में हिंदुओं और जैनों में से एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक है और हर साल हजारों भक्तों यहां पहुंचते हैं।

अयोध्या

अयोध्या

Pc: Ramnath Bhat
अगर हम बात भारत भारत की प्राचीन नगरियों की कर रहे हैं, तो अयोध्या का नाम इसमें सर्वोपरी है। सरयू नदी के तट पर स्थित अयोध्या को भगवान राम का जन्मस्थल माना जाता है, जिस कारण हर साल यहां लाखों की तादाद में राम भक्त पहुंचते हैं।

साकेत के नाम से प्रचलित अयोध्या कई प्राचीन मन्दिरों का घर है, जिसमे कनक भवन, राम पौड़ी, सरयू घाट,विजय भार्गव मंदिर आदि शामिल है।

हालांकि यह पिछले कुछ दशकों से विवाद का केंद्र रहा है, फिर भी यह उत्तरप्रदेश में अपने धार्मिक महत्व के कारण अभी भी एक प्रमुख आकर्षण है। शांति और देवत्व के बीच कुछ क्षण इस जगह को अवश्य निहारें। जाने! राम लला की भूमि अयोध्या के बारे में

कन्नौज

कन्नौज

यकीनन कन्नौज का नाम देख कर आप हतप्रभ हुए होंगे, लेकिन कन्नौज भारत के प्राचीन शहरों में से एक है, जो आज इत्र नगरी के नाम से जानी जाती है। यह जगह सिर्फ इत्र नगरी ही नहीं बल्कि अपने कई प्राचीन मन्दिरों के चलते भी श्रधालुयों के बीच खासा लोकप्रिय है।

महाकाव्य महाभारत में कन्याकुब्ज के रूप में उल्लेखित कन्नौज प्राचीन भारत में एक प्रमुख राजनीतिक केंद्र रहा है। तो क्यों ना इन छुट्टियों उत्तर प्रदेश के सबसे पुराने जीवंत शहर को घूमकर इसके दिलचस्प इतिहास का पता लगाया जाये?

मथुरा

मथुरा

Pc:Umang108
श्री कृष्ण की जन्मभूमि से प्रख्यात मथुरा उत्तर प्रदेश की प्राचीन नगरी और भारत का प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थल है। अगर आप इतिहास प्रेमी है, तो आपको इस जगह की यात्रा अवश्य करनी चाहिए। इस खूबसूरत से नगर में आप कई प्राचीन मंदिर, घात आदि देख सकते हैं।

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स