» »छुट्टियाँ अब होगीं और भी यादगार..जब आप पहुंचेगे दक्षिण भारत

छुट्टियाँ अब होगीं और भी यादगार..जब आप पहुंचेगे दक्षिण भारत

Written By: Goldi

जैसे जैसे गर्मियों की छुट्टियाँ नजदीक आती है.. तो समझ नहीं आता कि कहां घूमा जाए। हम जब भी छुट्टियाँ प्लान करने बैठते हैं..तो दिमाग में शिमला,मनाली ,कश्मीर, लद्दाख ही रह जाता है। अगर आप यह सब जगहों को घूम चुके हैं और इन छुट्टियों में कुछ नया और रोमांचकारी करने के मूड मे हैं। तो आज का हमारा आर्टिकल आप ही के लिए है।
जाने! बैंगलोर के नार्थ इंडियन फ़ूड सेंटर्स के बारे में..

आज हम आपको रूबरू कराने जा रहें हैं दक्षिण भारत के खूबसूरत हिल स्टेशन से।जिनके नाम आपने सुने तो होंगे लेकिन उनके बारे में शायद ही किसी ने जानना चाहा होगा। यहाँ आप कुदरत के हर बेहतरीन अंदाज़ से रूबरू होंगे,जहाँ शांत वातावरण और प्राकृतिक सौंदर्य आपको यहीं के गुड़गान गाने को मजबूर कर देगा।संस्कृति, इतिहास, विरासत, समुद्र, हरियाली और परम्पराएँ आदि के रंग में रंग के आप अपनी छुट्टियों को खुशनुमा बना सकते हैं।

देवीकुलम

देवीकुलम

केरल का बेहद खूबसूरत प्राकृतिक स्थल देवीकुलम अपने आकर्षक के लिए विश्व प्रसिध्द है। दूर दूर तक फैली हरी भरी मखमली घास, कल कल बहते झरने, चारों और अद्भुत आकर्षक दृश्य इस स्थल को सबसे अलग बनाते हैं।यह स्थल बैकपैकर्स के लिए स्वर्ग से कम नहीं है।
PC: Dinesh Kumar (DK)

अगुम्बे

अगुम्बे

दक्षिण भारत का सबसे अधिक वर्षा वाला स्थान अगुम्बे शिमोगा जिले के तीर्थहल्ली तालुक में स्थित है। इस स्थल को मलनाड प्रदेश भी कहा जाता है। अगुम्बे अपनी खूबसूरती, हरियाली के लिए पर्यटकों को खासा पसंद आता है। इस स्थल पर आप घने जंगल और उन जंगलों में पशु-पक्षी और अनेकों जड़ी-बूटियां देख सकते हैं। यह स्थल ट्रेकिंग प्रेमियों के लिए स्वर्ग है।PC:Magiceye

वारंगल

वारंगल

दक्षिण पूर्व और उत्तरी तेलंगाना में यह आकर्षक शहर वारंगल भारत के दक्षिण राज्य आंध्रप्रदेश का एक जिला है। यह कभी 12 वीं से 14 वीं ईस्वी के मध्य ककातिया शासकों की राजधानी था।वारंगल राज्य का पाँचवाँ सबसे बड़ा शहर है जिसे एक विशाल चट्टान को काटकर बनाया गया है। यह शहर वास्तुकला और समृद्ध इमारतों से पर्यटकों को अपनी और लुभाता रहा है।PC:ShashiBellamkonda

विजयवाड़ा

विजयवाड़ा

बैजवाड़ा और विजयवाड़ा के नाम से जाना जाने वाला यह शहर कृष्णा जिले में स्थित आंध्रप्रदेश का एक प्रान्त शहर है। यह शहर आंध्रप्रदेश राज्य का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। इस शहर के तीनों ओर पानी और एक तरफ पहाड़ी है। यहाँ आप मंदिरों और गुफाओं का एक विशाल संगम देख सकेंगे। यहाँ पर्यटकों के लिहाज़ से बहुत कुछ ख़ास है।
PC:Ashwin Kumar

पोर्ट ब्लेयर

पोर्ट ब्लेयर

अंडमान निकोबार द्वीप समूह की राजधानी पोर्ट ब्लेयर बेहद आकर्षक पर्यटन स्थल बन चूका है जो कभी काला पानी के नाम से जाना जाता था। स्वतंत्रता संग्राम के समय काला पानी सेनानियों के लिए भूतग्रह के बराबर था। जिसका नाम सुनते ही कैदियों की जान निकल जाया करती थी। लेकिन आज यह पर्यटन स्थलों में अपनी अलग पहचान रखता है जो अब भूतग्रह न होकर के तीर्थ स्थलों में माना जाता है।
PC:Sankara Subramanian

ऊटी

ऊटी

ऊटी के पहाड़ी स्थल को पहाड़ी स्थलों (हिल स्टेशनों) की रानी के रूप में भी जाना जाता है, यह कुन्नूर के पश्चिमोत्तर में 19 किमी दूरी पर है। ऊटी एक बेहद लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। कुन्नूर की तरह ऊटी भी नीलगिरी पहाड़ियों की हरियाली में बसा है और यहां कई झीलें, उद्यान और औपनिवेशिक स्थापत्य कला की विशेषता युक्त इमारतें भी हैं।
PC:Dibesh Thakuri

मुन्नार

मुन्नार

केरल का छोटा सा हिल-स्टेशन मुन्नार बेहद ही खुबसूरत और आकर्षक हैं, मुन्नार की खूबसूरती पर्यटकों को हर मौसम में अपनी ओर आकर्षित करती हैं। यहाँ के ऊँचे-ऊँचे पहाड़-काफी के बागान जैसी खुबसूरत जगहों को भी निहार सकते हैं। यकीन मानिए अगर किसी पहाड़ी जगह पर अच्छी छुट्टियां बिताने का मन है तो मुन्नार ऐसी ही जगहों में से एक है।
PC :Nishanth Jois

माहे

माहे

दक्षिण भारत में पांडिचेरी के संघ राज्य क्षेत्र में स्थित यह शहर बेहद आकर्षक और पर्यटकों के लिये आदर्श स्थल है। माहे में बोट हाउस लोकप्रिय आकर्षक है, जहाँ स्पीडबोट्स,पैडलबोट्स तथा केयाक्स आदि बोट्स का लुफ्त उठाया जा सकता है। यहाँ का वातावरण बेहद शांत रहता है जहाँ सैलानी आना पसंद करते हैं।

कोडैकानल

कोडैकानल

कोडैकानल यहां के मुख्य आकर्षण हैं शांत झीलें, फलों के बगीचे और हरी-भरी वादियां साथ ही यूकेलिप्टस और पाइन के जंगलों से आती स्‍वच्‍छ हवा यहां के वातावरण को सुगंधित और गुलजार बना देती है।
PC:Ahmed Mahin Fayaz

कन्याकुमारी : कन्याकुमारी

कन्याकुमारी : कन्याकुमारी

हिन्दुओं का प्रमुख तीर्थस्थल है। कन्याकुमारी तमिलनाडु राज्य का एक शहरहै। कन्याकुमारी दक्षिण भारत के महान शासकों चोल, चेर, पांड्य के अधीन रहाहै। यह मध्यकाल में विजयानगरम् साम्राज्य का भी हिस्सा रहा है।PC: Mehul Antani

अंडमान-निकोबार

अंडमान-निकोबार

अगर आपको पानी से खास लगाव है तो अंडमान-निकोबार आइलैंड आपके लिए सही रहेगा। बंगालकी खाड़ी में स्थित और हिन्द महासागर की जल सीमा से सटा अंडमान-निकोबारद्वीप समूह वास्तव में 300 से अधिक खूबसूरत द्वीपों और टापुओं का बड़ा समूह है, जहां पन्ना और मूंगे की चट्टानें भी मौजूद हैं। सफेद बालू वाले सुंदरसमुद्र तट, जहां पानी के किनारे कतार में लंबे-लंबे नारियल के पेड़ काफी आकर्षक नजर आते हैं।
PC:Ana Raquel S. Hernandes

इरोड

इरोड

तमिलनाडु का शहर इरोड बेहद आकर्षक है यह शहर इरोड जिले का मुख्यालय है। इरोड अपने वस्त्र उद्योग, हथकरघा उत्पादों और तैयार कपड़ों के लिये प्रसिद्ध है। इसलिये इस शहर को भारत के 'टेक्सवैली या लूम सिटी ऑफ इण्डिया' के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ आप चद्दरें, लुंगियाँ, तौलिये, सूती साड़ियाँ, धोतियाँ, गलीचे और प्रिन्ट किये कपड़े थोक दामों में खरीद सकते हैं। यह शहर तीर्थ यात्रियों के लिए प्रसिद्ध स्थल है।PC: Shuba

कूर्ग, कर्नाटक

कूर्ग, कर्नाटक

कोडागु के नाम से मशहूर कूर्ग कर्णाटक राज्य के बेहद आकर्षण स्थलों में से एक है। जिसे दक्षिण भारत का स्कॉटलैंड भी कहा जाता हैं। यहाँ की हरियाली, झरने और आकर्षण स्थल आपका मन मोह लेंगे। यहाँ आप सुन्दर घाटियां, रहस्मयी पहाड़ियां, कॉफी बागान, चोटियां और कल कल बहती नदियोँ का नजारा ले सकते हैं। PC :Ramesh NG

चिकमगलूर

चिकमगलूर

चिकमगलूर शहर कर्नाटक राज्य के खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है। यहाँ हरियाली हरे-भरे कॉफी के खेत, झरने आकर्षण स्थल आपका मन मोह लेंगे। यहां का सनसेट पॉइंट काफी विख्यात और बेहद ही खूबसूरत है। यहाँ की ठंडी-ठंडी हवा आपको एक ताजगी का अनुभव कराएगी, साथ ही आप यहां ट्रैकिंग का भी मजा ले सकते हैं।
PC: Vikram Vetrivel

बेकल

बेकल

अरब सागर के तटीय किनारों पर शान्ति से स्थित एक छोटा सा शहर बेकल अपने आकर्षणों के कारण पर्यटकों के बीच खासा लोकप्रिय है। बेकल नाम की उतपत्ति ‘बलिअकुलम' से हुई है जिसका अर्थ है 'बड़ा महल'। बेकल एक बेहद खूबसूरत शहर है जो अपनी खूबसूरती से पूरे विश्व का ध्यान अपनी और खींचती है। यहाँ आप बेकल किला, समुद्री आकर्षक आदि को देख सकते हैं।PC: Ashwin Kumar

बादामी

बादामी

वातापी के नाम से भी जाना जाने वाला शहर बादामी कर्नाटक के बागलकोट जिले का एक प्राचीन शहर है। यह कभी 6 वीं से 8 वीं शताब्दी तक चालुक्य राजवंश की राजधानी हुआ करता था। बादामी अपनी आकर्षक गुफाओं के लिए के लिए विश्व प्रसिद्ध है। यहाँ गुफाओं के अलावा भगवान शिव जी के तीन मंदिर हैं जो दर्शनीय हैं। बलुआ पत्थरों से घिरा यह स्थल गुफा, मंदिर और किला के लिए विख्यात है।
PC: Harsha Vardhan

अलाप्पुझा,केरल

अलाप्पुझा,केरल

अलाप्पुझा नावों का शहर, इसे भारत में पूर्व के वेनिस के नाम से भी जाना जाता हैं। यंहा के आकर्षक दृश्य और ठंडी वादियां आपका मन मोह लेंगी। यहां आप अपनी फैमिली के साथ सुन्दर घाटियां और कल-कल बहती नदियोँ का लुत्फ ले सकते हैं।PC: Paul Varuni

 
Please Wait while comments are loading...