» »राजस्थान का गुमनाम पर्यटन स्थल-मेनाल

राजस्थान का गुमनाम पर्यटन स्थल-मेनाल

Written By: Goldi

भारत में राजस्थान एक ऐसा खूबसूरत राज्य है..जिसका दीदार करने के लिए लोग देश विदेशों से आतें है। राजस्थान का पर्यटन ही नहीं बल्कि यहां की कला संस्कृति भी लोगो को काफी पसंद आती है।

                                 24 घंटों में जयपुर की यादगार यात्रा!

राजस्थान की राजधानी समेत उदयपुर, जोधपुर ,माउंट आबू घूमने के लिए पर्यटकों की पहली पसंद में शामिल होते हैं। इसी क्रम में आज हम आपको बताने जा रहें हैं राजस्थान के गुमनाम किले मेनाल के बारे में।

             भारत के आश्चर्य:कहीं हवा में झूलते है खंभे, तो कहीं आदमी बन जाता है जानवर

मेनाल अपने नैसर्गिक वैभव, कई प्रकार के मंदिरों तथा वाटर फॉल आदि के लिए बेहद जाना जाता है जिस कारण से बहुत से पर्यटकों की रूचि का केंद्र सालों से बना हुआ है।

                             जानिये कौन कौन से 10 पर्वत सबसे ऊँचे हैं

यह स्थान पुरातत्व,धर्म और पर्यटन का अनोखा संगम है।मेनाल का वॉटरफॉल व प्राचीन शिव मन्दिर पर्यटकों के आकर्षण के प्रमुख केन्द्र है। इन्हें देखने के लिए हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक यहां आते है।तो बिना देरी किये चलिए सैर करते हैं राजस्थान के एक खूबसूरत क्षेत्र की....

कहां है मेनाल

कहां है मेनाल

मेनाल चित्तोड़ राज मार्ग पर स्थित बूंदी नामक स्थान से करीब 100 किमी दूरी पर स्थित है तथा चित्तोड़ से करीब 70 किमी की दूरी पर स्थित है। यह स्थान यूं तो छोटा ही है पर यह ऐतिहासिक महानाल मंदिर और अपने प्राकृतिक सौंदर्य के कारण बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है।

खूबसूरत मंदिर

खूबसूरत मंदिर

पर्यटक मेनाल में कई मन्दिरों को देख सकते हैं। इन मंदिरों का निर्माण दिल्ली और अजमेर के राजपूत राजाओं ने अपने कार्यकाल में कराया था। यहां का महानालेश्वर मंदिर शिव मंदिर काफी खूबसूरत है।

खूबसूरत झरने

खूबसूरत झरने

मेनाल के साथ साथ आप सेवन फॉल और मिंडकी महादेव के झरनों का आनंद उठा सकते है इसके अलावा आप बिजौलिया नामक स्थान से मात्र 8 किमी दूर भड़क्या माताजी के जल प्रपात का भी लुफ्त उठा सकते हैं जो की काफी प्रसिद्ध है।

राष्ट्रीय स्मारक

राष्ट्रीय स्मारक

मेनाल को 1956 से भारत सरकार ने राष्ट्रीय स्मारक घोषित किया हुआ है। वर्तमान में यहां की देखभाल पुरातत्व विभाग करता है। पर्यटकों की सुविधा के लिए यहां पर विभाग द्वारा एक होटल भी स्थापित किया गया है।

आसपास क्या घूमे

आसपास क्या घूमे

पर्यटक मेनाल के आसपास चित्तौडग़ढ़ और बूंदी भी घूम सकते हैं। यहां पर उम्मेद भवन पैलेस और चित्रशाला भी देखने लायक जगह है। चित्रशाला की दीवार आपको रासरंग की बहुत सी कहानिया चित्रों के माध्यम से दिखाती हुई मिलेगी।PC:Arnold Betten

चित्तौडग़ढ़

चित्तौडग़ढ़

चित्तौडग़ढ़ मंदिरों, दुर्गो और किलों के लिए बेहद लोकप्रिय है, यहां पर आप बहुत से किले और मंदिरों को देख सकते हैं।PC: Sujay25

कब आयें मेनाल

कब आयें मेनाल

मेनाल में वैसे तो पुरे साल भर लोग घूमने के लिए आते रहते हैं पर यहां पर आने का सबसे अच्छा समय बरसात का है। उस समय मेनाल का झरना बहुत ज्यादा तेजी से नीचे की और गिरता है और चारों और बहुत ज्यादा हरियाली होती है।

 
Please Wait while comments are loading...