» »अगर ताजमहल देख देख-कर हो चुके हैं बोर...तो करें इन करें इन जगहों की सैर

अगर ताजमहल देख देख-कर हो चुके हैं बोर...तो करें इन करें इन जगहों की सैर

Written By: Goldi

आगरा एक ऐतिहासिक नगर है जोकि अपनी इस्लामिक कलाकृतियों और किस्सों कहानियों के लिए भी लोगों के बीच खासा जाना जाता है। जहां हर साल लाखों की तादाद में देशी समेत विदेशी पर्यटक प्रेम की निशानी ताज महल और फतेहपुर सिकरी का दीदार करने पहुंचते हैं।

जिन्दगी में एकबार दोस्तों के साथ रोड ट्रिप्स को जरुर एन्जॉय करें

मुगलकानीन इमारतों से भरा फतेहपुर सीकरी आगरा की खूबसूरती में चार-चाँद फतेहपुर सीकरी लगा देता है। फतेहपुर सीकरी के गौरव को बढ़ाता एशिया का सबसे ऊंचा दरवाजा 'बुलंद दरवाजा' आगरा की शान को अपनी ऊंचाई के साथ ऊंचा उठाता है। आगरा में ही शेख सलीम चिश्ती की मज़ार भी लोकप्रिय है जहाँ हर साल बाबा के चाहने वाले अपनी मुराद मांगने आते हैं।  

रूठी हुई गर्लफ्रेंड को ले जायें इन खूबसूरत जगहों पर

आगरा में सैलानियों के घूमने के असंख्य जगह मौजूद है..लेकिन अगर आप आगरा में रहते हैं और आगरा का वही ताज महल,आगरा किला और फतेहपुर सिकरी देखकर बोर हो गये हैं..तो आज हम आपको अपने लेख से अवगत कराने जा रहे हैं, कुछ ऐसी खूबसूरत जगहों से जहां आप अपने वीकेंड को मना सकते हैं हैं बेहद यादगार और मनोरंजक।

दिल्ली

दिल्ली

देश की राजधानी दिल्ली आगरा से करीब 200 किमी की दूरी पर स्थित है....दिल्ली सिर्फ भारत की राजधानी ही नहीं बल्कि पर्यटकों की भी पहली पसंद है । आप दिल्ली में घूमने के साथ साथ सरोजनी, और लाजपत बाजार में अच्छी शॉपिंग का लुत्फ भी उठा सकते हैं।PC: Diego Delso

जयपुर

जयपुर

जयपुर भारत के खूबसूरत शहरों में से एक है यह आगरा से 238 किमी है, इस शहर को पिंक सिटी के नाम से भी जाना जाता है।जयपुर शहर, अपने किलों, महलों और हवेलियों के विख्‍यात है, दुनिया भर के पर्यटक भारी संख्‍या में भ्रमण करने आते है। दूर - दराज के क्षेत्रों के लोग यहां अपनी ऐतिहासिक विरासत की गवाह बनी इस समृद्ध संस्‍कृति और पंरपरा को देखने आते है। अम्‍बेर किला, ना‍हरगढ़ किला, हवा महल, शीश महल, गणेश पोल और जल महल, जयपुर के लोकप्रिय पर्यटक स्‍थलों में से हैं। जयपुर में आप जायकेदार खाने के साथ साथ अच्छी शॉपिंग का भी मजा ले सकते हैं।PC: Const.crist

मथुरा

मथुरा

आगरा से मथुरा की दूरी करीबन 56 किमी है...भगवान कृष्ण की जन्म भूमि मथुरा को अंनत प्रेम की भूमि कहा जाता है। कहा जाता है कि भगवान कृष्ण का बचपन और उनकी जवानी के कुछ दिन इसी ऐतिहासिक शहर में व्यतीत हुए हैं। जहाँ की गलियों में नंदलाल गोपियों संग खेले हैं। वीकेंड में आप मथुरा की सैर कर सकते हैं।PC: Yadav Surbhi R.

वृन्दावन

वृन्दावन

आगरा से वृन्दावन की दूरी करीब 76 किमी है....यह वही जगह है जहां भागवान कृष्ण ने यमुना नदी के किनारे अपना बचपन बिताया था। दस्तावेजों से पता चलता है कि वृंदावन में ही भगवान कृष्ण ने दैवीय नृत्य किया था। इतना ही नहीं, राधा संग रासलीला के जरिए कृष्ण ने प्रेम का संदेश भी यहीं दिया था। वृंदावन हिन्दूओं का एक प्रमुख तीर्थस्थल है और यहां 5000 के करीब मंदिर हैं।यहां आप बांके बिहारी मंदिर, रंगजी मंदिर, गोविंद देव मंदिर और मदन मोहन मंदिर, गोवर्धन पर्वत आदि देख सकते हैं।PC: wikimedia.org

लखनऊ

लखनऊ

आगरा से राजधानी लखनऊ की दूरी करीबन 336 किमी है...राजधनी लखनऊ में आप एशिया का सबसे बड़ा पार्क जनेश्वर मिश्र पार्क,इमामबाड़ा,चिड़ियाघर,अम्बेडकर पार्क,रिवर फ्रंट आदि घूम सकते हैं। अगर आप राजधानी में सस्ती शॉपिंग का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो अमीनाबाद की सैर जरुर करें।PC: Prakhar Gupta

अलवर

अलवर

आगरा से अलवर की दूरी करीब 166 किमी है...अलवर अरावली पथरीली चट्टानों में बसा ऐतिहासिक शहर राजस्थान के मुख्य आकर्षणों में से एक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार पांडवों ने इसी स्थल पर 13 साल भेष बदलकर बिताया था। इतिहास में यह स्थान मेवाड़ के नाम से भी जाना जाता था। यहाँ आकर आप अलवर की खूबसूरती को सही से देख सकते हैं। यहाँ के किले, झील और यहाँ का अद्भुत दृश्य देखने लायक होता है।

PC:Tapish2409

नीमराना

नीमराना

नीमराना राजस्थान के अलवर जिले में स्य्हित एक ऐतिहासिक शहर है जोकि आगरा से 254 किमी की दूरी पर स्थित है।नीमराना में घूमने के लिए नीलकंठ मंदिर,सिलिसरेह झील,विराटनगर आदि हैं। नीमराना के पास ही भानगढ़ भी है जोकि सैलानियों के बीच खासा प्रसिद्ध है।PC:Astoriajohn

केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान भरतपुर

केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान भरतपुर

अगर आप पशु पक्षियों से प्यार करते हैं तो आपको केवलादेव घना राष्ट्रीय उद्यान की सैर जरुर करनी चाहिए...यह भारत के राजस्थान में स्थित एक विख्यात पक्षी अभ्यारण्य है। यह पार्क करीब 28 किलोमीटर में फैला हुआ है, इस पार्क में वेटलैंड, सूखी घास के जंगल, जंगल और दलदल हैं। इसमें हजारों की संख्या में दुर्लभ और विलुप्त जाति के पक्षी पाए जाते है। असाधारण रूप से विलक्षण राष्ट्रीय उद्यान वर्ष 1985 से यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल है।PC: Snowmanradio

कुरूक्षेत्र

कुरूक्षेत्र

कुरूक्षेत्र में कई धार्मिक स्‍थल है जो कुरूक्षेत्र पर्यटन को रोचक बना देते है। यहां स्थित ब्रह्मा सरोवर टैंक में, विशेष रूप से सूर्यग्रहण के दौरान हर वर्ष श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है।कुरूक्षेत्र का इतिहास बेहद समृद्ध और रंगारंग रहा है। समय बीतने के साथ, यहां की पवित्रता में दिनों - दिन विकास हुआ है, और यहां के दौरे पर भगवान बुद्ध और कई सिक्‍ख गुरू आएं, जिन्‍होने यहां आकर अपनी अमिट छाप छोडी। साथ ही बता दें, कुरुक्षेत्र वही जगह है जहां की भूमि पर पांडवो और कौरवों के बीच का ऐतिहासिक युद्ध, महाभारत लड़ा गया था। यही वह जगह है जहां भगवान श्री कृष्‍ण ने, अर्जुन का मोह भंग करते हुए उन्‍हे भगवद् गीता का उपदेश दिया था।PC:Subia R Zaman

Please Wait while comments are loading...