• Follow NativePlanet
Share
» »गर्मियों में खेलना है बर्फ से, तो जरुर जायें कुल्लू के इन गांवो में

गर्मियों में खेलना है बर्फ से, तो जरुर जायें कुल्लू के इन गांवो में

Written By:

हिमालय की तलहटी में बसे गांव ना सिर्फ आपको मनोरम प्रकृति के नजारे दिखाते हैं, बल्कि यहां छुट्टियाँ बिताने से आप खुद में स्फूर्ति महसूस करते हैं। यूं तो हिमाचल प्रदेश में घूमने की कई जगहें हैं, जहां पर्यटकों को जमावड़ा लगा रहता है। लेकिन जैसे की कहा गया है कि, अगर आप ताज़ी हवा और सुंगंधित मिट्टी की खुशबू को महसूस करना चाहते हैं, तो भारत के गांवों की सैर अवश्य करें। तो क्यों ना इन छुट्टियों में कुल्लू के गाँवों की सैर की जाए।

कुल्लू, 'देवताओं की घाटी', हिमाचल प्रदेश के राज्य में एक खूबसूरत जिला है। घाटी का यह नाम इसलिये पड़ा क्योंकि यह विश्वास है कि एक समय कई हिंदू देवी, देवताओं और दिव्य आत्माओं के लिए घर था। ब्यास नदी के तट पर 1230 मीटर की ऊंचाई पर स्थित, यह अपने शानदार प्राकृतिक वातावरण के लिए जाना जाता है। तो आइये जानते हैं, कुल्लू के कुछ खूबसूरत गांवों के बारे में, जहां आप अपनी छुट्टियों को मनाने के लिए पहुंच सकते हैं-

दोभी, कुल्लू से करीबन 20 किमी

दोभी, कुल्लू से करीबन 20 किमी

मनाली के बाहरी इलाके में स्थित दोभी एक छोटा सा गांव है, जो पर्यटकों के बीच पैराग्लाइडिंग और नदी राफ्टिंग के लिए जाना जाता है। इस छोटे से गांव में घूमते हुए आप हिमालय के पीर पंजाल पर्वतमाला के शानदार दृश्यों को निहार सकते हैं। इस गांव में आप घूमते हुए बौद्ध कॉलोनी को भी देख सकते हैं, साथ ही कुछ फिशिंग साइट्स भी है, जहां आप फिशिंग का मजा उठा सकते हैं। सबसे खास बात यहां आप होटल्स में रहने का नहीं बल्कि कैम्पिंग का जबरदस्त मजा ले सकते हैं।

गुशैणी, कुल्लू से 60 किमी की दूरी

गुशैणी, कुल्लू से 60 किमी की दूरी

गुशैणी कुल्लू जिले में स्थित एक सुरम्य गांव है। प्रकृति के इस खूबसूरत उपहार को खोजने का सबसे अच्छा तरीका पैरों से है। पर्यटक प्रकृति के बीच चलने का आनंद यहाँ के जंगलो और प्राकृतिक उपवनो में ले सकते हैं। खूबसूरत दृश्य और संस्कृति के लिए जाना जाता है कुल्लू
Pc: flicker

नाशाला, कुल्लू से 21 किमी की दूरी

नाशाला, कुल्लू से 21 किमी की दूरी

प्रसिद्ध नग्गर कैसल के नजदीक एक पहाड़ी तट पर स्थित, नाशाला एक खूबसूरत गांव है, जहां के घर आज भी पारंपरिक रूप से अपनी वास्तुकला के चलते पर्यटकों का मन मोहते हैं। अगर आप फोटोग्राफी के शौक़ीन है, तो आपको अपनी इस कला का उपयोग कर इस गांव की खूबसूरती को अपने कैमरे में अवश्य कैद करना चाहिए।

मलाना, कुल्लू से 40 किमी की दूरी पर

मलाना, कुल्लू से 40 किमी की दूरी पर

कुल्लू का एक प्राचीन गांव मलाना,अपनी अनोखी परंपरा और सुंदरता के ल‍िए जाना जाता है, साथ ही यह पर्यटकों के बीच मलाना क्रीम के लिए लोकप्रिय है। हिमाचल की तलहटी में बसा यह खूबसूरत गांव दुनिया भर के वीड लवर्स को अपनी ओर आकर्षित करता है। वीड के अलावा यह खूबसूरत गांव अपने जटिल नक्काशी वाले मंदिरों के लिए जाना जाता है, जोकि बर्फ से ढके हुए बेहद सुंदर नजर आते हैं।अगर आप मलाना में रुकना चाहते हैं, तो यहां के लकड़ी से बने घर में रहने का अनुभव अवश्य प्राप्त करें।Pc:Anees Mohammed KP

सेठान- कुल्लू से 50 किमी

सेठान- कुल्लू से 50 किमी

मनाली के शोर शराबे से दूर हिमालय की गोद में स्थित सेठान एक छोटा सा गांव है, जो शांतिप्रिय लोगो के लिए एकदम बेस्ट है। सर्दी हो या गर्मी हर मौसम में यह जगह पर्यटकों के घूमने के लिए परफेक्ट है, जहां सर्दी में यहां विंटर स्पोर्ट्स एक्टिविटीज का मजा लिया जा सकता है, तो वहीं गर्मियों उत्तर भारत की गर्मी से निजात पायी जा सकती है।

 गुलाबा

गुलाबा

गुलाबा एक सुंदर स्‍थल है जो मनाली से 20 किमी. की दूरी पर स्थित है। सर्दियों के दौरान यह जगह बंद रहती है क्‍योंकि भारी बर्फवारी के कारण यहां के रास्‍ते ब्‍लॉक हो जाते हैं। हालांकि गर्मी में पर्यटकों उत्तर भारत की तपती गर्मी से निजात पा सकते हैं, इस जगह आकर पर्यटक बर्फ से ढ़के पहाड़ों और सड़क का अद्भुत नजारा देख सकते हैं।
Pc: Neerajsinghazm

मनाली घूमकर हो चुके हैं बोर, तो जरुर जायें तीर्थन घाटी

यात्रा पर पाएं भारी छूट, ट्रैवल स्टोरी के साथ तुरंत पाएं जरूरी टिप्स